तबलीगी जमातियों के भगौड़ों की हुई गिरफ़्तारी, इलाहबाद युनिवर्सिटी के प्रोफेसर भी शामिल

उत्तर प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या काफी बढ़ती जा रही है, ऐसे में उत्तर प्रदेश की सरकार और पुलिस को काफी कड़े कदम उठाते देखा जा रहा है। वही इसके साथ ही साथ आपको ये भी बता दे कि कही न कही ये तबलीगी जमातियों में शामिल लोगों की वजह से है, उनकी लापरवाही और बेवकूफियां हम सब पर काफी भरी पड़ रही है। उत्तर प्रदेश में लगभग 1100 मरीज़ है जिनमें से 17 की मौत भी हो चुकी है. अब इनके बाद जहाँ लोगों को कोरोना से बचाने की पूरी कोशिश में सरकार लगी है, तो वही पुलिस भी पीछे नहीं है।
आपको बता दे कि तबलीगी जमाती में शामिल कुछ लोगों को जिले की पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. जिनमे इलाहबाद विश्विद्यालय के प्रोफेसर मोहम्मद शाहिद के साथ 30 लोग शामिल है और इनमे 16 विदेशी जमाती भी है। पुलिस अधीक्षक (नगर) बृजेश कुमार श्रीवास्तव जानकारी देते हुए बताया है कि इन विदेशी जमाती में शामिल 7 इंडोनेशियाई नागरिकों प्रोफेसर शाहिद ने अब्दुल्ला मस्जिद में ठहराने की सिफारिश की थी, और इनसब की जानकारी पुलिस को नहीं दी थी।

जानकारी के मुताबिक आपको बता दे कि, पुलिस ने इनसब को विदेश अधिनियम का पालन न करने और इसके साथ शाजिस में शामिल होने और मदद करने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है। वही शिवकुटी के पुलिस ने इन मामले के सामने आने के बाद प्रोफेसर को गिरफ्तार कर थाने में रखा है, वही बाकी लोगों को पृथकवास केंद्र में रखा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *